DISCLAIMER

Please note author of this blog is a devotee of shri asharam bapu ji, i am not a doctor or vaidhya so consult your doctor before use any herbal product. This blog is a non profit educational purpose only blog no any item sell from this blog you can buy any herbal asharam bapu ji products direct from bapu ji online store at here:-
subject to Pindwara ( india) jurisdiction only

Achyutaya Ardusi Ark

Achyutaya Ardusi Ark is available in 210 ml bottle at all asaram bapu ji stores.

 Price of this 210 ml pack is INR 30.
 This herbal medicine is make from Adhatoda Vasica which known as Ardusi.
This ark is very useful for cough and bronchitises. 
Take near 1-2 tsp (5 to 15 ml.) once or twice daily after meals overall dose depends upon age, weight & illness of the individuals. 
OR as directed by your physician. (please consult your doctor before taking any medicine.)
 It is also recommended that one should do not take milk 2 hour before & 2 hour after taking this ardusi ark medicine. Benefits Achyutaya Ardusi Ark liquefies and removes cough therefore useful in dry cough, productive cough, bronchitis. Achyutaya Ardusi Ark produces slow but persistent bronchiolitis on daily long-term use in asthma, COPD etc..

पूज्य बापूजी का गुरुपूर्णिमा का सन्देश 31 जुलाई 2015 Guru Poornima Message Of Asaram Bapu Ji

पूज्य बापूजी का गुरुपूर्णिमा का सन्देश 31 जुलाई 2015
ॐ आनंद ॐ माधुर्य ॐ उन्नति 
छान्दोग्य उपनिषद् का वचन है महामनास्यात , बड़े मन वाले बनो |
सर्दी , गर्मी ,बारिश की निंदा न करो , मनुष्यों , पशु पक्षी जीव जंतुओं की निंदा न करो |मांस भक्षण न करो , मदिरा न पियो |निंदा और मांस - मदिरा बुद्धि को तुच्छ बनाती है |

 जप यज्ञ , गीता कहती है यज्ञो दानं तपश्चैव पावनानि मनीषिणाम्। पवित्र बुद्धि परमात्मा के आनंद में प्रतिष्ठित होती है | 

भगवन व्यास जी कहते हैं और मैं भी कहता हूँ ,"रात्रि को सोते समय और सुबह उठाते समय , मैं प्रभु का हूँ प्रभु मेरे हैं |वे आनंद स्वरुप हैं तो मैं भी आनंद स्वरुप हूँ , सुख दुःख आके चले जाते हैं मैं साक्षी ज्यों का त्यों हूँ |"ऐसा अभ्यास करने वाला शीघ्र ही मुझे पता है मुझ मय हो जाता है |
यही है भगवन से नज़र मिलाना गुरु से नज़र मिलाना | गुरु को जैसा जगत दिखता है , भगवान् को जैसा जगत दिखता है तुम्हें भी ऐसा ही दिखने लग जाए |फिर शोक मोह चिंता भय दुःख और सुख ऐसे उड़ जाएँगे जैसे आग से कपूर | 
गीता कहती है , ज्ञानाग्नि दग्ध कर्माणं ..| ३१/७/२०१५ का पावन गुरुपूर्णिमा का पर्व , पावन संदेश देता है - निंदा न करो , फ़रियाद न करो , एक दुसरे को बदनाम न करो और अपने आनंद स्वरुप को जगाओ | जोधपुर जेल से गुनाही प्रवृत्ति करने वालों को छोटी नज़रों से देखा जाता है व अच्छी प्रवृत्ति वालों को ऊँची नज़रों से देखा जाता है और मेरी ऊँची बात तुम तक पहुँचाने की सेवा भी करता है सज्जन प्रशासन | 
ये साइन मेरे हैं , आज की ताज़ा खबर !! तुम्हारे जीवन में नित्य नवीन रस प्रभु का उभरता रहे | 
ॐ ॐ आनंदम् |
 इस संदेश को विश्व भर में फैलाओ | निंदा की की हम किसी से ......सत्य बोलें झूठ त्यागें ........हे प्रभु आनंददाता .... समझ गए साईं के प्यारे , दिल के दुलारे लाला लाल्लियाँ | मेरी चिंता न करो , मेरे आत्मस्वभाव का चिंतन करो |मेरी नज़र से नज़र मिलाओ और मुक्त हो जाओ | यही भगवान वेद व्यास चाहते हैं , इष्टदेव और गुरुदेव चाहते हैं | व्यासजी से , कृष्ण जी से , गुरूजी से अपनी समझ साझा करो | 31.7.2015

Must Read This divine message of Asaram
Bapu ji from Jodhpur Jail at 31 July 2015


थायराईड की बीमारी हेतु बीज मन्त्र ( Bees Mantra For Thyroid )

बीज मन्त्रों में अथाह शक्ति है प्रत्येक बीज मन्त्र एक अतं स्त्रावी ग्रन्थि से संबधित होता है जिन्हे योग की भाषा में चक्र ( Chkra) भी कहते हैं। आजकल स्त्रीयों में 40 वर्ष की आयु के बाद हारमोनल इमबैंलेंस से थायराईड की समस्या देखी जाती है जिसमें चक्कर आना घबराहट होना आदि समस्याएं होती है गले में जो शक्ति चक्र होता है उसे योग की भाषा में विशुद्धि चक्र ( Vishudhi Chakra is situated in throat and related to thyroid disease) कहते हैं इसे ही विज्ञान थायराईड ग्रन्थि ( Thyroid Gland) कहता है। इसका संबध सत्य (Truth) से है तथा आजकल के लोग झूठ ही ज्यादा बोलते हैं इसलिये इस चक्र में विकार आ जाता है जिसे थायराईड की बीमारी कहते हैं। 
आपका टीएसएच लेवल चाहे कितना भी हो तथा आप चाहे थायराईड की जो भी दवाई ले रहें हो चाहे आप किसी भी धर्म को मानते हो या नहीं मानते हो मैं आज आपको एक जादुई मन्त्र बताने जा रहा हुं जिसके जाप से आपको पहले दिन से ही थायराईड में फायदा होगा यह मन्त्र मैने मेरी बहन को बताया था जिसको थायराईड के कारण चलते ही चक्कर आते थे तथा लगभग छह माह से अग्रेंजी दवाई लेने पर भी लाभ नहीं होता था परन्तु दो माला करने से ही मेरी बहन चलने फिरने लगी। 
विशुद्धि चक्र का बीज मन्त्र है हं  (Ham) इसको हम बोलते है संस्कृत में बिन्दु का उच्चारण म होता है इसलिये हं को हम उच्चारण करते हैं आपको आखं बंद करके गले पर ध्यान करते हुये ओम हं नमः की एक माला रोज करनी है ज्यादा करें तो ज्यादा फायदा होगा पर कम से कम एक माला 108 की करनी है।
 मन्त्र काल में झूठ नहीं बोले या फिर भी झूठ आपके रोम रोम में बसा हो तो कम से कम बोलें तथा यदि दिन में नहीं सोवें यहां भी यही बात है दिन में सोये बिना आपको चैन नहीं पड़ता हो तो एक घंटें से कम समय के लिये सोवें व दिन के एक बजे से पहले सोवें।
फिर जादु देखें सात दिन बाद थायराईड का टेस्ट करवावें नोर्मल आवे तो डोक्टर की सलाह से दवाई का डोज कम या आधा कर देवें व माला एक की जगह दो कर देवें फिर सात दिन में चैक करवावें अबके भी नोर्मल आवे तो दवाई डोक्टर को पुछकर बंद कर देवें व माला दो की जगह तीन कर देवें। फिर सात दिन में चैक करवावें। अबके भी नोर्मल आवे तो आप थायराईड से मुक्त हो चुकें हैं अब आपको जीवन भर ओम हं नमः की तीन माला रोज करनी है। 
ऋतु स्त्राव के दौरान बिना माला के मानसिक जाप किया जा सकता है। आपको जो भी लाभ हो उसे कमेंट में अवश्य बतावें ताकि अन्य बहनों का उत्साह इस प्रयोग के प्रति बढें व थायराईड के इलाज पर व्यय होने वाला करोड़ों रूपया बच सके।
जानिये कैसे विषुद्वि चक्र के बीज मन्त्र ओम हम नम से पायें थायराईड की बीमारी हायपोथायरोडीज्म या हायपरथायरोडीज्म से पूर्ण छुटकारा ज्यादा जानकारी के लिये यह  यू टयूब वीडीयो देखें
If you knew English then read my English post on thyroid problems here:-
Cure Hypothyroidism by Yoga, Bees Mantra and Alternative Herbal Medicines.

Or see this English Video of Thyroid:-




आश्रम के प्राकृतिक शर्बत ( Natural Sharbat of Saint Shri Asaram Bapu Ashram)

गर्मियों के लिये आश्रम के तीन प्रमुख शर्बत आज मैं एक प्रमुख कपंनी का गुलाब का शर्बत लेकर आया जिसका रोज अखबार में विज्ञापन आता था उस पर मैने ध्यान से पढा तो लिखा था
Commodity Name:- Synthetic Sharbat 
Ingredients:- Water Sugar and Natural or Artificial rose flavouring substances
उससे मेरा मन खराब हो गया क्यों कि गुलाब की खुशबू पैदा करने वाला कृत्रिम रसायन ( Artificial Chemical) सिटरोनेलोल कहलाता है। मैने सोचा जब आश्रम के प्राकृतिक शर्बत ( आश्रम के प्राकृतिक शर्बत ( Natural Sharbat of Saint Shri Asaram Bapu Ashram))उपलब्ध है तब कृत्रिम रासायनिक शर्बत क्यों पिये जावें इसलिये इस आलेख में आश्रम के तीन प्राकृतिक शर्बतों की जानकारी दी जा रही है।
 आसाराम बापू आश्रम के प्रमुख उत्पादों की सूची ( List of Asaram bapu products) के लिये यहां क्लीक करें 
आश्रम के तीन प्राकृतिक शर्बतों की जानकारी
1.अच्युताय गुलाब सर्बत (Achyutaya Gulab Sharbat)
लाभ : यह शरबत अत्यन्त सुमधुर और जायकेदार है प्यास की अधिकता, अन्तर्दाह,ग्लानी, अवसाद, भ्रम, चित्त की अस्थिरता,पेशाब की जलन, मूत्रकृच्छ, आँखों की जलनतथा सुर्खी आदि विकारो को दूर करता है ।शारीरिक व मानसिक थकावट को मिटानेवाला, तृप्तिकारक तथा आनंददायक है । 
See Also:-
Best Gulab water 
and 
Best Gulkand
2.अच्युताय ब्राह्मी शर्बत (Achyutaya Brahmi Sharbat)
 इस शर्बत के सेवन से ज्ञानतन्तु तथा दिमाग कि निर्बलता , यादशक्ति कि कमी , सिरदर्द , चक्कर आना, उन्माद, हिस्टीरिया(अपस्मार), वायु खून कि कमी इत्यादि दूर होकर दिमाग शांत होता हैं ! बुद्धिवर्धक तथा स्फुर्तिदायक इस शर्बत का उपयोग अति लाभदायक है
3.अच्युताय पलाश शर्बत(Achyutaya Palash Sharbat)
पलाश वृक्ष को आयुर्वेद ने ‘ब्रम्हवृक्ष’ नाम से गौरवान्वित किया है  पलाश रसायन ( वार्धक्य एवं रोगों को दूर रखने वाला ), नेत्रज्योति बढ़ाने वाला व बुद्धिवर्धक भी है यह मधुर व शीतल है! इसके सेवन से पित्तजन्य रोग शांत हो जाते हैं ! ग्रीष्म ऋतु की तपन से रक्षा होती है! कई प्रकार के चर्मरोग भी दूर होते है! प्रमेह (मूत्र-संबंधी विकारों ) में भी लाभदायी है  

आसाराम बापू के जेल जाने के बाद मेरे जीवन में घटित चम्तकार ( Asaram Bapu Miracle After Imprisonment )

 बापू जी के जेल चले जाने के बाद मेरे मन में उनके प्रति आस्था कम हो गयी थी यद्पि बापू जी के चम्तकार ने मेरे पेट की प्राब्लम ठीक की थी जिसका उल्लेख मैने अपने ब्लोग के इस लिंक पर किया है 
परन्तु फिर भी टीवी चैनलों पर बहस सुन सुन कर मुझे लगने लगा था कि बापु जी ने जरूर कुछ गलत हरकत की होगी इसी से उनको जेल हुयी है।
 एक दिन स्कूटर पर बच्चों को छोड़ने स्कूल जा रहा था तो देखा किसी ने बापू जी की तस्वीर अपने घर से बाहर फेंक दी थी मैने स्कूटर का होर्न बजाया व बोला हरिओम बापूजी परन्तु तस्वीर को उठाया नहीं। उसी रात स्वप्न में बापू जी दिखे परन्तु मैने ज्यादा ध्यान नहीं दिया।
 उसके बाद मेरी गर्दन में भयानक दर्द हो गया डाक्टरों ने सर्वाइकल स्पोन्डेलाईटेटिस बताया तथा ऐसी ऐसी भयानक दवाईंया दे दी की बस...मरते मरते रहा। उसके बाद 31 अक्टूबर 2014 को गले में इन्फेक्शन होने आवाज एकदम रूक गयी लोग स्वाईन फलु का वहम कर रहे थे। डाक्टर से दवाईयां लेकर घर पर चाय पीने आया तो गर्म चाय मेरे नौ वर्षिय पुत्र की छाती पर गिर गयी तथा चाय इतनी गर्म थी कि सीने की त्वचा तत्काल जलकर हट गयी तथा नीचे से सफेद त्वचा निकल गयी मैं अपनी पत्नी सहित तुंरत बच्चे को अस्पताल लेकर गया डाक्टरों ने 40 प्रतिशत जलना बताया ।
 डोक्टर ने कहा कि पुरा ठीक होते होते 30 दिन लगेगें व तथा सफेद दाग भी जलने का रहा सकता है जिसके लिये मेरे मित्रों ने ढांढस बंधाया कि सफेद दाग की बाद में प्लास्टीक सर्जरी करवा लेना। 
घर आने पर बच्चा लेटा हुआ था कि बाहर गली में नाचने गााने की आवाजें आने लगी देखा तो बापू जी के समर्थन में शोभा यात्रा निकल रही थी सैंकडो नर नारियां नाचते गाते किर्तन करते व बापू जी निर्दोष है के नारे लगाते हुये निकले पीछे बापू जी की बड़ी डिजीटल तस्वीर थी जिसको देखकर लगा कि बापू जी मुझे साक्षात धीरज बंधा रहें है कि मुझे व मेरे बच्चे को कुछ नहीं होगा। 
मैने तुरंत एक डायरी उठाकर उसमें लिखा कि बापू जी मेरे सब अपराध क्षमा करदो सकल ब्रहमांड सहित हम आपके ही उदर में समायें हैं आप ही मेरे आराध्य हैं बापू जी आपके बालक का जला हुआ ठीक हो जावे उसके दाग भी नहीं रहे तथा मेरी पीठ व गर्दन की भयानक पीड़ा ठीक हो जावे तथा मेरे गले के इन्फेक्शन से जो आवाज बंद हो गयी है पता नहीं स्वाईन फलु है या कैंसर है या कुछ ओर है वो ठीक हो जावे मेरे घर में सुख व स्वास्थ्य का फिर से वास हो जावे तो फिर कभी आपकी बुराई में भाग नहीं लुगां ।( मैं भी लोगों के साथ बापू जी की हंसी उड़ाने में भाग लेने लगा था ) आपके वचनों के अनुसार चलने की 101 प्रतिशत कौशिश करूंगा हे मेरे नाथ चम्तकार करिये मेरे प्रभु संत तो अकारण ही दया करते है आपके इस बालक को फिर से अपना लिजिये प्रभु। 
उसके बाद आवाज अगले दिन ही खुल गयी व लगभग 20 दिन में लडका एकदम ठीक हो गया उसके जलने का निशान तक नहीं रहा परन्तु मेरी गर्दन का सर्वाइकल का दर्द पूरी तरह से ठीक नहीं हुआ तो एक दिन बापू जी की तस्वीर को कहा कि बापू जी गर्दन का दर्द ओर ठीक कर देते तो मेरे अनुभव लिखकर ऋषि प्रसाद में भेजता पर गर्दन का दर्द पूरी तरह गया नहीं है तो शाम को इन्टरनेट पर काम करते समय प्रेरणा हुयी की गूगल पर आसाराम बापू गर्दन का र्दद लिखकर खोजुं ऐसा किया तो बापू जी का एक पानी प्रयोग का विडीयो सामने आया जिसमें बापू जी ने पानी प्रयोग बताया था 
इस विडीयो का लिंक है
उस पानी प्रयोग को चालु करने से गर्दन का सर्वाइकल का दर्द पुरा चला गया है। 
अब आपकी बारी है कृपया आपके विचारों से कमेंट में अवगत करावें।
Asaram Bapu Miracle After Imprisonment , Cervical cervical spondylosis Asaram bapu, Water Therapy Asaram bapu

Asaram bapu medicines for weight loss

Many of my followers ask Asaram bapu medicines for weight loss. So today we discuss 3 most usefull ashram products for weight loss.Please consult your doctor before using any herbal or ayrvedic product of asaram bapu.
1.Shodhan Kalpa:-Shodhan kalpa is one of the most popular bapu ji medicine for weight loss it guarantees to outwit obesity by increasing your metabolism.
 Shodhan kalpa is increasing body metabolism, helps in losing weight while strengthening the internal system.
 This kalpa Blocks the enzymes that turn extra calories into fat an aids body’s natural burning of fats.

Read more details here Shodhan Kalpa

2. Punarnava Tablets:-
Punanrnava is also use-full for slim body because I experience it on myself and on my wife, This is not only loose weight but also give a young looking body read more details here Punarnava Tablets
3.Gaujharan Ark:-This is one of the most beneficial medicine since it helps balance the three doshas Vatta, Pitta, and Kapha read more details here Gaujharan Ark

Cow Ghee ( Cow's clarified butter)

Today we discus about benefits of cow's ghee as per saint shree asharam bapu. 

 Clarified butter obtained from indigenous cows enhances physical, mental and intellectual health, rids us of diseases and also augments purification of atmosphere. 
Main Benifites of cow's ghee use:- 
1. If you use cow ghee then you may gains strength, virility and longevity. It alleviates any excess bile. 
2. Cow ghee cure Many hidden health problems pertaining to both men and women can be alleviated. 
3. Cow's clarified butter cures hyper acidity and constipation. 4. Taking one glass of milk with a spoon of cow clarified butter and rock sugar leads to physical, mental and intellectual growth. 
5. It retains youth for a longer time. Clarified butter from a black cow can bring forth youth in even aged persons. 
6. Regular intake by pregnant women benefit the child in womb by making him stronger, healthier and more intelligent. 7. Regular consumption of clarified butter makes the heart stronger. It does not allow the cholesterol to increase. Clarified butter made from butter extracted by churning curd is extremely beneficial in numerous heart ailments. 
8. Clarified butter made from indigenous cows is also a potent medicine against all forms of cancer. 
Caution: Excess consumption of clarified butter can lead to indigestion. Daily intake of 10 to 15 grams is adequate.If you have high blood pressure and heart problem or other health problems then consulet your doctor before use clarified butter 
 Taking clarified butter through nose:- 
1. It has a soothing effect and enhances peace of mind. 
2. It augments memory power and eye sight. 
3. Provides relief during migraine. 
4. Removes dryness and flaking inside the nose. 
5. Hair loss and greying of hair stops completely and infect, new hair begin to grow. 
6. One gets deep sleep by putting 2-2 drops in one's nostrils and rubbing it on belly button and sole of feet during evening time. Dosage: Maximum 4 to 8 drops. 
How to purify the environment using cow's clarified butter 
1. By offering oblations of clarified butter in fire, the environment becomes free from pollution and harmful particulates to the entire extent of the spread of the smoke. Just by putting one spoon of oblation is adequate to generate one ton of purified oxygen in the air. This is not feasible by any other means. 
2. Offering oblation of clarified butter with rice leads to release of some really vital gas like - ethylene oxide, propylene oxide, formaldehyde, etc. These gases are extremely potent in removing harmful bacteria or organisms and so, are also used in surgeries in the form of life saving medical cases. 
3. Clarified butter has tremendous capacity to rid the body of any aberrations due to exposure to radiotherapy. 
Source - Rishi Prasad Sept 2013

Labels